14.1 C
New Delhi
Saturday, February 4, 2023

कश्मीर में हिन्दू-सिखों की नृशंस हत्याओं के विरोध में बजरंग दल का गुस्सा फूटा

देश भर में विरोध प्रदर्शन कर पाकिस्तान व आतंकवाद का किया पुतला दहन

कश्मीर घाटी में हुए हिन्दू-सिखों की नृशंस हत्याओं के विरुद्ध शनिवार को सारा देश उबाल पर था। घटनाओं के विरोध में विश्व हिन्दू परिषद की युवा शाखा बजरंग दल के नेतृत्व में लाखों राष्ट्र भक्त युवाओं ने देश भर में जम्मू से कन्याकुमारी तथा गुवाहाटी व ईटानगर से जैसलमेर तक लगभग 3500 स्थानों पर प्रदर्शन कर आतंकवाद व आतंकी पाकिस्तान का पुतला दहन किया। हिंदू समाज पर लगातार हो रहे हमलों के विरोध में किए गए इन विराट प्रदर्शनों में जिहादी आतंकवाद के समूल नाश के संकल्प के साथ कश्मीरी पीड़ित हिंदु-सिख परिवारों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त करते हुए यह संदेश भी दिया गया कि सम्पूर्ण देश उनके साथ खड़ा है तथा जिहादी आतंकवाद की कब्र भारत ही खोदेगा।


विहिप के केन्द्रीय महामंत्री श्री मिलिंद परांडे ने मदुरै में प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए दोहराया कि कश्मीर घाटी में पाँच दिनों में सात भारतीयों की नृशंस हत्याएं विश्व समुदाय की आँखें खोलने वाली हैं। आतंकवाद को राजनैतिक हथियार के रूप में प्रयोग करने वाले पाकिस्तान का विश्व समुदाय द्वारा बहिष्कार किया जाना चाहिए।

कन्याकुमारी में प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए बजरंग दल के राष्ट्रीय संयोजक श्री सोहन सिंह सोलंकी ने कहा कि 1309 वर्षों से भारत इस्लामी आतंकवाद से लड़ रहा है। हम इसे एक-एक आतंकवादी की समाप्ति तक लड़ेंगे। कश्मीर में एक बार फिर से 1990 के दशक की तरह चुन चुन कर हिंदुओं की हत्याएं की जा रही है। यह सब सीमा पार से पाकिस्तान प्रेरित आतंकवादियों द्वारा किया जा रहा है। जम्मू-कश्मीर से धारा 370 और 35A के हटने के बाद अब अफगानिस्तान में तालिबानी शासन के कारण आतंकवादी घटनाओं में एका-एक वृद्धि हुई है। भारत सरकार कश्मीर से हो रहे हिन्दुओं के पलायन को रोके, उनकी सुरक्षा की व्यवस्था करें और कश्मीर के हर एक हिंदू को आत्मरक्षा हेतु शस्त्र लाइसेंस जारी करे तथा विस्थापितों के सुरक्षित पुनर्वास की व्यवस्था करे।

कर्नाटक के बेंगलुरु में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बजरंग दल के राष्ट्रीय सह-संयोजक श्री सूर्य नारायण ने कहा कि आतंकी या तो अपने आकाओं के पास आतंकिस्तान लौट जाएं अन्यथा देश का हिन्दू युवा इसका प्रतिकार करना जानता है।
कार्यकर्ताओं को उत्तर भारत के पटना में विहिप के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ रविंद्र नारायण सिंह ने, दक्षिण भारत के चेन्नई में केन्द्रीय कार्याध्यक्ष सीनीयर एडवोकेट श्री आलोक कुमार तथा मदुरै में विहिप के केन्द्रीय महामंत्री श्री मिलिंद परांडे तथा पश्चिम भारत के नागपुर में विहिप के केन्द्रीय महामंत्री (संगठन) श्री विनायक राव देशपांडे ने संबोधित किया।

वक्ताओं ने राजनीतिक पर्यटन करने वाले जिहादियों के शुभ चिंतकों को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जब हिंदुओं-सिखों को चुन-चुनकर मारा जाता है तो उनके मुंह में दही क्यों जम जाता है? उनका सेक्यूलरिज्म उस समय क्यों मर जाता है जब हिन्दू मारा जाता है? ध्यान रहे कि इस्लामिक आतंकवादी सांपों को दूध पिलाने वाले स्वयं भी सुरक्षित नहीं हैं।

Related Articles

इंदौर में ‘‘सर तन से जुदा’’ का नारा लगवाने के आरोपी को जमानत देने से अदालत का इनकार

इंदौर में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान जुटी भीड़ से कथित ‘‘सर तन से जुदा’’ का भड़काऊ नारा लगवाने के आरोप का सामना कर...

श्रीलंका ने रामायण से जुड़े स्थलों की पहचान की

श्रीलंका ने रामायण से जुड़े स्थलों की पहचान की है जिससे भारत में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। श्रीलंका पर्यटन संवर्धन के अधिकारी जीवन फर्नांडो...

पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार ने पेट्रोल, डीजल पर 90 पैसा वैट लगाया

पंजाब सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल पर 90 पैसा प्रति लीटर वैट (मूल्य वर्धित कर) लगाने का फैसला किया। राज्य मंत्रिमंडल की...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,866FansLike
476FollowersFollow
2,679SubscribersSubscribe

Latest Articles