32.1 C
New Delhi
Tuesday, September 27, 2022

केन्‍द्र सरकार ने कोविड महामारी से निपटने के दौरान अर्थव्‍यवस्‍था को बढावा देने के लिए छह लाख 28,993 करोड रुपये से अधिक के प्रोत्‍साहन पैकेज

वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारामन ने आज नई दिल्‍ली में एक संवाददाता सम्‍मेलन में इन उपायों की घोषणा की। इनमें आठ आर्थिक पैकेज भी शामिल हैं, जिनमें से चार पूरी तरह से नये हैं, जबकि एक विशेष रूप से स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र के लिए है।

वित्‍तमंत्री ने बताया कि राहत उपायों में एक लाख करोड़ से अधिक की ऋण गारंटी योजना कोविड प्रभावित क्षेत्रों के लिए है। इसमें से पचास हजार करोड़ रुपये स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र के लिए होंगे। उन्‍होंने कहा कि इस आर्थिक मदद से स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र के बुनियादी ढांचे को आधुनिक बनाने का काम किया जायेगा। वित्‍तमंत्री ने कहा कि यह ऋण गारंटी योजना आठ बड़े शहरों को छोड़कर अन्‍य शहरों में स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्रों से जुड़ी परियोजनाओं के विस्‍तार और कुछ नई योजनाओं को शुरू करने के लिए है।

निर्मला सीतारामन ने आत्‍मनिर्भर भारत योजना के तहत मई 2020 में शुरू की गई इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी योजना के लिए डेढ़ लाख करोड़ रुपये के  पैकेज की भी घोषणा की। इस योजना के पहले, दूसरे और तीसरे चरण में सार्वजनिक क्षेत्र के 12 और निजी क्षेत्र के 25 बैंकों तथा 31 गैर बैंकिंग वित्‍तीय कंपनियों के ओर से अब तक दो लाख उनहत्‍तर हजार करोड़ रुपये का कर्ज दिया जा चुका है़। उन्‍होंने बताया कि कारोबार करने वालों के लिए ऋण गारंटी की सीमा तीन लाख करोड़ रुपये से बढ़ाकर साढ़े चार लाख करोड़ रुपये कर दी गई है।

एक अन्‍य राहत उपाय के तहत वित्‍तमंत्री ने 25 लाख छोटे कारोबारियों के लिए भी ऋण गारंटी योजना की घोषणा की। इसके तहत लघु और गैर बैंकिंग वित्‍तीय कंपनियों  की ओर से छोटे कारोबारियों के लिए सवा लाख रुपये तक का कर्ज उपलब्‍ध कराया जाएगा।

वित्‍तमंत्री ने कोरोना से प्रभावित पर्यटन क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के लिए 11 हजार पंजीकृत टूरिस्‍ट गाइड और पर्यटन क्षेत्र से जुड़े हितधारकों के लिए भी बड़े राहत पैकेज की घोषणा की। इसके तहत सौ फीसदी गारंटी के साथ दस लाख रुपये तक का ऋण ट्रैवल और टूर एजेंसियों को दिया जायेगा। राज्‍य और क्षेत्रीय स्‍तर पर पंजीकृत और लाइसेंस प्राप्‍त टूरिस्‍ट गाइड एक लाख रुपये तक का ऋण ले सकेंगे।

वित्‍तमंत्री ने विदेशी पर्यटकों के लिए पांच लाख वीजा मुफ्त जारी करने की घोषणा की। यह स्‍कीम 31 मार्च 2020 तक या पांच लाख वीजा जारी किये जाने तक लागू रहेगी। एक पर्यटक को केवल एक बार इस योजना का लाभ मिलेगा। इस पूरी योजना के तहत सौ करोड़ रुपये की मदद दी जायेगी।

श्रीमती सीतारामन ने आत्‍मनिर्भर भारत रोजगार योजना की अवधि 30 जून 2021 से 31 मार्च 2022 तक बढ़ाने की भी घोषणा की। यह योजना पिछले वर्ष अक्‍टूबर में शुरू की गई थी। इसका उद्देश्‍य कर्मचारी भविष्‍यनिधि संगठन के माध्‍यम से नियोक्‍ताओं को रोजगार के नए अवसर पैदा करने में मदद करना है।

 

 

Related Articles

जांच एजेंसियों ने देश के कई राज्‍यों में PFI पर छापेमारी की

दिल्‍ली पुलिस ने पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया से सम्‍बद्ध मामले की जांच के सिलसिले में राजधानी दिल्‍ली में कई स्‍थानों पर छापे मारे हैं।...

बांग्लादेश में हुई नाव दुर्घटना में मृतकों की संख्या 50 पहुंची

बंगलादेश में पांचागढ़ की कारातोया नदी में हुई नाव दुर्घटना में मृतकों की संख्या 50 हो गई है। बंगलादेश की सरकारी समाचार एजेंसी बीएसएस...

अमानतुल्‍लाह खान को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेजा गया

दिल्‍ली की एक अदालत ने दिल्‍ली वक्‍फ बोर्ड में कथित अनियमितता के मामले में आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्‍ला खान को 14 दिन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,866FansLike
476FollowersFollow
2,679SubscribersSubscribe

Latest Articles