17.1 C
New Delhi
Tuesday, January 31, 2023

HC ने राजीव गांधी हत्याकांड दोषी पेरारिवलन की रिहाई का आदेश दिया

उच्चतम न्यायालय ने राजीव गांधी हत्याकांड मामले में दोषी ए.जी. पेरारिवलन को रिहा करने का बुधवार को आदेश दिया जो उम्रकैद की सजा के तहत 30 साल से अधिक समय से जेल में बंद है।

पीठ ने कहा, ‘‘ राज्य मंत्रिमंडल ने प्रासंगिक विचार-विमर्श के आधार पर अपना फैसला किया था। अनुच्छेद 142 का इस्तेमाल करते हुए, दोषी को रिहा किया जाना उचित होगा।’’

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के हत्यारे ए. जी. पेरारिवलन को न्यायालय ने यह देखते हुए नौ मार्च को जमानत दे दी थी कि सजा काटने और पैरोल के दौरान उसके आचरण को लेकर किसी तरह की शिकायत नहीं मिली।

शीर्ष अदालत 47 वर्षीय पेरारिवलन की उस याचिका पर सुनाई कर रही थी, जिसमें उसने ‘मल्टी डिसिप्लिनरी मॉनिटरिंग एजेंसी’ (एमडीएमए) की जांच पूरी होने तक उम्रकैद की सजा निलंबित करने का अनुरोध किया था।

तमिलनाडु के श्रीपेरुम्बदुर में 21 मई, 1991 को एक चुनावी रैली के दौरान एक महिला आत्मघाती हमलावर ने खुद को विस्फोट से उड़ा लिया था जिसमें राजीव गांधी मारे गए थे। महिला की पहचान धनु के तौर पर हुई थी।

न्यायालय ने मई 1999 के अपने आदेश में चारों दोषियों पेरारिवलन, मुरुगन, संथन और नलिनी को मौत की सजा बरकरार रखी थी।

शीर्ष अदालत ने 18 फरवरी 2014 को पेरारिवलन, संथन और मुरुगन की मौत की सजा को उम्रकैद में तब्दील कर दिया था। न्यायालय ने केंद्र सरकार द्वारा उनकी दया याचिकाओं के निपटारे में 11 साल की देरी के आधार पर फांसी की सजा को उम्रकैद में बदलने का निर्णय किया था।

Related Articles

डोभाल ने अमेरिका के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ जनरल मिले से मुलाकात की

अजित के. डोभाल ने अमेरिका के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ जनरल के अध्यक्ष मार्क मिले से मुलाकात की और भारत-अमेरिका द्विपक्षीय सहयोग के विभिन्न...

पाकिस्तान में हुए आत्मघाती विस्फोट में 83 लोगों की मौत

पाकिस्तान में मस्जिद में हुए आत्मघाती विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़कर 83 हो गई है, जबकि 157 लोग घायल हुए हैं। धमाका...

आस्ट्रेलिया में खालिस्तानियों का आतंक, तिरंगा लहरा रहे स्टूडेंट्स को पीटा

ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर में हिंदू मंदिरों पर हमला करने के बाद अब खालिस्तानी भारतीयों को निशाना बना रहे हैं। रविवार को वहाँ जनमत...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,866FansLike
476FollowersFollow
2,679SubscribersSubscribe

Latest Articles