11.1 C
New Delhi
Tuesday, December 6, 2022

ओमिक्रॉन वैरिएंट को हल्‍का नहीं समझा जाना चाहिए: WHO

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने कहा है कि कोविड-19 का अधिक संक्रामक ओमिक्रॉन वैरिएंट डेल्टा की तुलना में कम घातक प्रतीत हो रहा है। लेकिन संगठन ने चेतावनी दी कि इसे हल्‍का नहीं समझा जाना चाहिए।  इस वैरिएंट से संक्रमित लोगों को अस्‍पताल में दाखिल कराने की जरूरत कम पडी़।

उन्‍होंने पूरी दुनिया में टीकों की समान उपलब्‍धता सुनिश्चित करने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि टीकाकरण की मौजूदा दर से दुनिया के 109 देश जुलाई तक 70 प्रतिशत नागरिकों के पूर्ण टीकाकरण के विश्व स्वास्थ्य संगठन का लक्ष्‍य पूरा नहीं कर पायेंगे।

उन्‍होंने कहा कि जब तक अरबों लोग टीकाकरण से वंचित और असुरक्षित रहेंगे केवल कुछ देशों में बूस्‍टर के बाद बूस्‍टर डोज से महामारी का अंत नहीं होगा।

Related Articles

गुजरात विधानसभा चुनाव में ज़्यादातर एग्जिट पोल्स में बीजेपी को बहुमत

अधिकतर एग्जिट पोल में गुजरात विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की भारी जीत का अनुमान लगाया गया है, जबकि हिमाचल प्रदेश में सत्ताधारी...

दिल्ली में पुलिसकर्मी ने की आत्महत्या, पार्क में मिला शव

दिल्ली पुलिस के एक सहायक उपनिरीक्षक ने मंगलवार सुबह यहां आत्महत्या कर ली। पुलिस ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नई दिल्ली के...

आतंकवाद के वित्तपोषण को रोकना चाहिए : अजित डोभाल

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने मंगलवार को क्षेत्र के देशों द्वारा आतंकवाद के वित्तपोषण को रोकने को अधिक प्राथमिकता दिए जाने की जोरदार...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,866FansLike
476FollowersFollow
2,679SubscribersSubscribe

Latest Articles