13.1 C
New Delhi
Saturday, February 4, 2023

भारत ने कहा, आतंकवाद के किसी भी कृत्य को सही नहीं ठहराया जा सकता

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है कि दुनिया को आतंकवाद से कभी समझौता नहीं करना चाहिए। उन्होंने जोर देकर कहा कि आतंकवाद के सभी रूपों और अभिव्यक्तियों की निंदा की जानी चाहिए और इसका कोई औचित्य नहीं हो सकता।

उन्‍होंने कहा कि भारत ने 2008 में मुंबई में आतंकवादी हमले और 2016 में पठानकोट हवाई अड्डे पर हुए हमले सहित आतंकवाद की चुनौतियों का सामना किया है और इनमें कई लोगों की जानें भी गई हैं।

उन्होंने कहा कि आतंकवाद का खतरा किसी धर्म, राष्ट्रीयता, सभ्यता या किसी जातीय समूह से नहीं जुड़ा हो सकता है और न ही होना चाहिए।

Related Articles

इंदौर में ‘‘सर तन से जुदा’’ का नारा लगवाने के आरोपी को जमानत देने से अदालत का इनकार

इंदौर में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान जुटी भीड़ से कथित ‘‘सर तन से जुदा’’ का भड़काऊ नारा लगवाने के आरोप का सामना कर...

श्रीलंका ने रामायण से जुड़े स्थलों की पहचान की

श्रीलंका ने रामायण से जुड़े स्थलों की पहचान की है जिससे भारत में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। श्रीलंका पर्यटन संवर्धन के अधिकारी जीवन फर्नांडो...

पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार ने पेट्रोल, डीजल पर 90 पैसा वैट लगाया

पंजाब सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल पर 90 पैसा प्रति लीटर वैट (मूल्य वर्धित कर) लगाने का फैसला किया। राज्य मंत्रिमंडल की...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,866FansLike
476FollowersFollow
2,679SubscribersSubscribe

Latest Articles