20.1 C
New Delhi
Sunday, December 4, 2022

प्रधानमंत्री ने करगिल में सुरक्षाबलों के साथ दिवाली मनाई

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि नए भारत की परिकल्‍पना केवल देश के लिए ही नहीं है बल्कि यह बलिदान, प्रेम, संवेदना, प्रतिभा, साहस, पराक्रम और शांति का मिश्रण है। करगिल में सशस्‍त्र बलों के साथ बातचीत करते हुए श्री मोदी ने कहा कि विश्‍वभर में कई सभ्‍यताएं विकसित हुई हैं और उनका अंत भी हुआ है, लेकिन भारतीय सभ्‍यता हर सम्‍भव चुनौतियों के बाद हमेशा पुनर्जीवित हुई है। उन्‍होंने कहा कि एक राष्‍ट्र तब अजर-अमर हो जाता है, जब उस देश के वीर सैनिकों का स्‍वयं में विश्वास होता है।

देशभक्ति को देवभक्ति के समान बताते हुए प्रधानमंत्री ने देश के सशस्‍त्र बलों की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि वे करगिल की विजय भूमि से विश्‍व और देशवासियों को दीपावली की शुभकामनाएं दे रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि दिवाली का मतलब है आतंक के अंत का त्‍योहार और करगिल ने इसे सम्‍भव बनाया है। श्री मोदी ने कहा कि सुरक्षाबलों ने करगिल में दिवाली के अवसर पर आतंक के अस्तित्‍व को नेस्‍तनाबूद कर दिया था। प्रधानमंत्री ने सेना की अतुल्‍य वीरता की सराहना की और कहा कि राष्ट्र को तब गर्व होता है जब उसके सैनिकों का मस्तक हिमालय की तरह ऊंचा होता है।

मोदी ने कहा कि आज विश्‍व भारत की बढ़ती शक्ति और ताकत की ओर देख रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि साम्राज्‍यवाद से एक कदम आगे हटना नौसेना का एक नया प्रतीक बन गया है। उन्‍होंने कहा कि नौसेना का प्रतीक अब छत्रपति शिवाजी की बहादुरी का प्रतीक बन गया है। श्री मोदी ने इस बात पर जोर दिया कि राष्‍ट्र उपनिवेशवाद की जंजीरों को तोड़ रहा है और राजपथ का नाम कर्तव्‍य पथ करना इस संकल्‍प का प्रतीक है। उन्‍होंने कहा कि भारत ने हमेशा से ही युद्ध को अंतिम विकल्‍प माना है और विश्‍व में शांति का प्रचार किया है। उन्‍होंने कहा कि यदि कोई भारत की तरफ बुरी नज़रों से देखने की हिम्‍तत करेगा तो देश के तीनों सशस्‍त्र बल उसका करारा जवाब देंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ब्रह्मोस सुपर सोनिक मिसाइल से लेकर, तेज़स लड़ाकू जेट विमान तक भारत की नई शक्ति के कुछ उदाहरण हैं। उन्‍होंने कहा कि स्‍वदेशी प्रौद्योगिकी देश की रक्षा कर रही है और समुद्र में आई.एन.एस. विक्रांत, गहरे समुद्र में अरिहंत और आसमान में तेजस सुरक्षा कार्यों में लगे हुए हैं। उन्‍होंने कहा कि एक तरफ भारत आयात कम रहा है, जबकि दूसरी तरफ वोकल फॉर लोकल आगे बढ़ रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि वास्‍तव में भारतीयों के स्‍वभाव में यह एक नई जागृति हुई है। प्रधानमंत्री ने आत्‍मनिर्भर बनने का संकल्‍प लेने के लिए सशस्‍त्र बलों का अभिनन्‍दन किया। उन्‍होंने कहा कि जब जवान स्वदेशी हथियारों से लड़ते हैं, तो उन्‍हें केवल गर्व ही नहीं महसूस होता, बल्कि उन्‍हें दुश्‍मनों को हराने का एक नया अनुभव मिलता है। श्री मोदी ने कहा कि नए भारत के विकास के लिए महिला अधिकारियों को स्‍थायी कमीशन के रूप में शामिल करना महत्‍वपूर्ण है और यह देश के सशस्‍त्र बलों के लिए वरदान साबित हो रहा है।

Related Articles

शमी चोट के कारण बांग्लादेश वनडे से बाहर, उमरान मलिक टीम में शामिल

तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी कंधे में चोट के कारण बांग्लादेश के खिलाफ रविवार से शुरू होने वाली एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला में नहीं खेल...

दिल्‍ली आबकारी नीति घोटाला मामले में तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री की पुत्री के. कविता को पूछताछ के लिए समन

सीबीआई ने दिल्‍ली आबकारी नीति घोटाला मामले में तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री की पुत्री के. कविता को पूछताछ के लिए समन भेजा है। सीबीआई ने...

आफताब पूनावाला की नार्को जांच सफल रही

अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वालकर की हत्या के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला की यहां रोहिणी के एक अस्पताल में बृहस्पतिवार को करीब दो घंटे...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,866FansLike
476FollowersFollow
2,679SubscribersSubscribe

Latest Articles